जेईई मेन एग्जाम क्या है [ JEE Main Exam Kya hai ]

Share it now:

नमस्कार दोस्तों! आज मैं आपको इस आर्टिकल में बताऊंगा जेईई मेन एग्जाम क्या है [ JEE Main Exam kya hai ]अगर आप जानने को इच्छुक है तो आप बिल्कुल इस आर्टिकल [ JEE Main Exam kya hota hai ] पर टिके रहे, ध्यानपूर्वक पढ़ें आपको सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी ।

जेईई मेन एग्जाम क्या होता है (What is JEE Main Exam) आखिर जेईई मेन एग्जाम क्या है [ JEE Main kya hai ] इससे जुड़ी सारी बात करेंगे और मैं आपको गाइड भी करता जाऊंगा इसलिए आप बेफिक्र रहें और जब तक आपको पूरी जानकारी ना मिल जाए तब तक इसे आपको पूरी संतुष्टि और ईमानदारी के साथ इस आर्टिकल को पढ़ना है ।

जेईई मेन क्या होता है [ JEE Main kya hai ] 

सबसे पहले जानते हैं जेईई मेन (JEE Main) का फुल फॉर्म क्या होता है? तो JEE का फुल फॉर्म है जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (Joint Entrance Examination) मतलब यहां से यह साफ साफ पता चल रहा है यह कोई एक एग्जाम है और यह जेईई मेंस एग्जाम है क्या?

यह भी पढ़ें:

तो इसका उत्तर बड़ा ही स्पष्ट है जेईई मेंस एक इंजीनियरिंग प्रतियोगी परीक्षा है जिसके अंक के आधार पर आपका भारत के किसी अन्य इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन मिलता है ।

भारत के इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए जेईई मेंस एकमात्र सर्वोत्तम एग्जाम है । अगर इस एग्जाम में आपको अच्छे अंक प्राप्त होते हैं तो आपका एडमिशन भारत के सर्वश्रेष्ठ नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कॉलेजस में होता है जिसे हम लोग एनआईटी कॉलेज के नाम से भी जानते हैं ।

अगर आप जानना चाहते हैं एनआईटी क्या होता है? इसके लिए आपको हमारा पिछला ब्लॉग आर्टिकल पढ़ना पड़ेगा जिसका लिंक दे रहा हूं ।

जेईई मेन परीक्षा कौन दे सकता है? [JEE Main Exam kon de skta hai] 

यह सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न है क्योंकि अगर आपको पता है कि जेईई मेन एग्जाम कौन दे सकता है तभी जाकर आप खुद इस एग्जाम को दे  पाएंगे या फिर दूसरों को भी सलाह दे पाएंगे ।

  1. 12वीं की पढ़ाई साइंस सब्जेक्ट से होना अनिवार्य है ।
  2. 12वीं में फिजिक्स , केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स सब्जेक्ट अनिवार्य है।

अगर आपने 12वीं की पढ़ाई विज्ञान विषय से की है और आपका फिजिक्स , केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स विषय अनिवार्य रहा है तो आप इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं । 

जेईई मेन का पेपर कैसा होता है [JEE Main paper kaisa hota hai]

मैं यह तो नहीं कहूंगा कि जेईईमेन का पेपर बहुत ही आसान है लेकिन इतना मुश्किल भी नहीं है कि आप इसे पास नहीं कर पाए । जेईई मेन का पेपर आसान है या मुश्किल यह तो खुद आप समझ जाएंगे बस मैं थोड़ा सा आपको गाइड कर रहा हूं पहले आप इस के पेपर का पैटर्न समझ लीजिए ।

जेईई मैन के पेपर में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स तीनों विषयों से मिलाकर 90 प्रश्न पूछे जाते हैं जिसमें आपको सिर्फ 75 प्रश्न को हल करना है ।

SubjectsNo. of QuestionsTotal Marks
Physics20 MCQ + 10 Numericals = 30100
Chemistry20 MCQ + 10 Numericals = 30100
Mathematics20 MCQ + 10 Numericals = 30100
Total90 प्रश्न में सिर्फ 75 प्रश्न को हल करना है300

ध्यान रहे प्रत्येक प्रश्न का महत्व समान है :

  • अगर आप एक प्रश्न का उत्तर सही देते हैं तो आपको 4 अंक मिलते हैं ।
  • लेकिन अगर आप एक प्रश्न का उत्तर गलत कर देते हैं तो आपका 1 अंक काट लिया जाता है ।

इसे एक उदाहरण के साथ समझाता हूं ताकि समझने में आसानी हो मान लीजिए आपने कुल 50 प्रश्न के उत्तर दिया उसमें से 20 प्रश्न के उत्तर गलत हो गए तो क्या आप बता सकते हैं आपको कितने अंक मिलेंगे?

  • सही प्रश्न के अंक = 30×4 = 120
  • गलत उत्तर के लिए अंक काटे गए = 20×1 = 20
  • आपको प्राप्तांक मिलेंगे = 120 – 20 = 100

यानी कि आपको 300 अंक में 100 अंक प्राप्त हुए हैं तो ध्यान रहे जय मैन के एग्जाम में प्रश्न के उत्तर ज्यादा से ज्यादा तभी दे जब आपको उसका उत्तर अच्छे से मालूम हो ।

जेईई मेन परीक्षा देने के बाद क्या होता है [ JEE Main Exam ke baad kya hota hai ]

जिन्हें जेईई मेंस एग्जाम के बारे में नहीं पता है , उन्हें लगता है कि इसके बाद उन्हें नौकरी मिल जाएगी लेकिन ऐसा नहीं है! जेईई मेंस का एग्जाम ऑनलाइन कराया जाता है होने के बाद आप का रिजल्ट 15 दिन के भीतर आ जाता है, रिजल्ट में आपका अंक परसेंटाइल में दिया रहता है और आपको रैंक भी प्राप्त होता है । इसी रैंक के आधार पर आपको भारत के सर्वोच्चत्तम इंजीनियरिंग कॉलेजेस में एडमिशन मिलता है ।

चलिए अब जेईईमेन से संबंधित कुछ प्रश्न के जवाब दे देता हूं जो आपके मन में बार-बार आता है!


Q1.जेईई मेन का एग्जाम एक वर्ष में कितने बार होता है?

उत्तर: जेईई मेन का एग्जाम वर्ष में केवल 2 बार होता है

Q2.क्या जेईई मेन का एग्जाम देने से सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन मिलता है?

उत्तर: जी बिल्कुल सही आपने पूछा अगर जेईईमेन की परीक्षा में रैंक अच्छा आया है तो एनआईटी कॉलेज में एडमिशन अवश्य मिलेगा ।

Q3.जेईईमेन में कितना रैंक आने पर एनआईटी कॉलेज में एडमिशन मिलता है?

उत्तर: देखो 40000 तक रैंक आने पर भी है एनआईटी में एडमिशन हो जाता है लेकिन इंजीनियरिंग की अच्छी ब्रांच नहीं मिलती ।


निष्कर्ष: JEE Main Exam kya hai?

अंततः कहने और सुनने को तो बहुत कुछ है लेकिन उसकी हमें जरूरत नहीं है तो आशा करता हूं जेईई मेन एग्जाम क्या है [ JEE Main Exam kya hai ] गूगल में सर्च करते इस आर्टिकल पर जो आए हैं तो यहां से आपको सारी जानकारी जरूर मिली होगी ।

अगर आपका कोई सुझाव है तो आप कमेंट बॉक्स में लिखकर बता सकते हैं और अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें । धन्यवाद! 


Share it now:

Leave a Comment