Smart work kaise karen :) स्मार्ट वर्क कैसे सीखें और करें

Share it now:

Smart work kaise karen: नमस्कार दोस्तों तो क्या आप जानना चाहते हैं स्मार्ट वर्क कैसे करें तो बिल्कुल आप सही जगह पहुंच चुके हैं क्योंकि आज के इस OverSmart के ब्लॉग में आपको बताएंगे स्मार्ट वर्क कैसे सीखें और करें (Smart work kaise sikhen or karen) आपको यह जानकर बड़े ही हैरानी होगी कि लोग स्मार्ट वर्क और हार्ड वर्क का नाम तो सुने हैं लेकिन हमारे यहां केवल 2 से 3 परसेंट लोगों को ही स्मार्ट वर्क का असली मतलब पता है।

लेकिन अब आपको चिंता करने की कोई बात नहीं है क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम पूरे इनफॉरमेशन के साथ बात करेंगे कि स्मार्ट वर्क क्या है और इसे कैसे करते हैं। तो अगर आप स्मार्ट वर्क को करना और सीखना चाहते हैं तो आप इस आर्टिकल के अंत तक टिके रहे आपको व सारे इंफॉर्मेशन यहां से अवश्य प्राप्त होंगे उसके बाद आप किसी भी अपने दोस्तों को भी यह सारी एडवाइज दे सकते हैं।

स्मार्ट वर्क कैसे करें | Smart work kaise karen

smart work kaise karen
Smart work kaise karen

स्मार्ट वर्क करने समझने और जानने से पहले आपको यह समझना होगा कि स्मार्ट वर्क क्या होता है क्योंकि हम लोग स्मार्ट वर्क के बारे में तो बहुत कुछ सुनते रहते हैं लेकिन एक्चुअली स्मार्ट वर्क कहते किसे है यह जानना बहुत ही आवश्यक है। किसी भी काम को करने के लिए 2 तरीके बताए जाते हैं:

  • पहला हार्ड वर्क और
  • दूसरा स्मार्ट वर्क

हार्ड वर्क क्या होता है | Hard work kya hota hai

हार्ड वर्क की जहां तक बात करें तो किसी भी काम को करने में शुरुआती दौर में हार्ड वर्क करना ही पड़ता है। लेकिन यहां हार्ड वर्क का सीधा मतलब यह है कि अगर आप अपनी शारीरिक क्षमता से किसी भी कार्य को ज्यादा करते हैं तो वह हार्ड वर्क के अंदर गिना जाता है। 

जैसे कि रिक्शावाला ठेला वाला या लेबर मिस्त्री या किसी आम किसान की बात करें तो वह अपने शारीरिक क्षमता से कार्य को करता है तो ऐसे सभी काम हार्ड वर्क के अंतर्गत आते हैं। तो अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कौन सा काम है जिसमें की हार्ड वर्क नहीं करना पड़ता है? जी बिल्कुल आपने सही प्रश्न पूछा ऐसा कोई भी काम नहीं है जिसमें कि आपको हार्डवर्क ना करना पड़े 

स्मार्ट वर्क क्या होता है | Smart work kya hota hai

स्मार्ट वर्क का सीधा मतलब यह है कि वैसे काम जिसमें आपको अपनी शारीरिक क्षमता का ज्यादा उपयोग ना करते हुए आप ज्यादातर अपने बुद्धि का प्रयोग करके किसी काम को पूरा करते हैं तो उसे ही स्मार्ट वर्क कहा जाता है। तो अब आप ऐसा बिल्कुल भी ना सोचे कि स्मार्ट वर्क में कुछ ही काम शामिल है, जी नहीं आप बिल्कुल गलत सोच रहे हैं अगर आप किसान, रिक्शावाला, ठेला वाला या कोई भी छोटा या बड़ा काम करते हैं हर जगह यह स्मार्ट वर्क और हार्ड वर्क को देखा और परखा जा सकता है।

हार्ड वर्क और स्मार्ट वर्क में क्या अंतर है?


अब हम लोग बड़े अच्छे उदाहरण से समझेंगे हार्ड वर्क और स्मार्ट वर्क में क्या अंतर है उसके बाद आपको खुद पता चल जाएगा कि स्मार्ट वर्क कैसे करते हैं और इसे पढ़ते पढ़ते ही आप इस स्मार्ट वर्क करना सीख जाएंगे।

उदाहरण के तौर पर मान ले कि आप एक रिक्शा वाले हैं तो आपको बड़ी ही परिश्रम करना होगा पैसे कमाने के लिए तो एक बात तो तय है जब तक आप रिक्शा चलाते रहेंगे तब तक आपको परिश्रम करते रहना पड़ेगा लेकिन पूरी जिंदगी भर इसे चलाने का मतलब है कि आप हार्ड वर्क कर रहे हैं।

लेकिन अगर आप शुरुआती दौर में रिक्शा चलाने के कुछ दो चार साल के बाद अगर आप अपने थोड़े बुद्धि और टेक्नोलॉजी का यूज करके कुछ ऐसे तरीके अपना लें कि आपको अब रिक्शा ना चलाना पड़े और आप 10-20 रिक्शे का मालिक बन जाए और उसे भाड़े पर लगाकर अच्छा पैसा कमा सकते हैं। तो इसमें आपको ना तो कोई रिक्शा चलाना पड़ेगा और आपकी आमदनी भी पिछले हार्ड वर्क से ज्यादा ही होगी और इसे ही स्मार्ट वर्क कहा जाता है।

स्मार्ट वर्क करने के फायदे


स्मार्ट वर्क करने के कई सारे फायदे हैं लेकिन यह सारे फायदे तभी मुमकिन है जब आप स्मार्ट वर्क करना अच्छी तरह से सीख जाते हैं तो चलिए जानते हैं स्मार्ट वर्क करने के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं जो कुछ इस प्रकार है:

  • स्मार्ट वर्क करने के लिए शुरुआती दौर में आपको बहुत कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी जो आपको मेहनत करना सिखा देती है।
  • इस तरह काम करने से आप अपने खुद के लिए समय निकाल सकते हैं तो इसमें समय का बहुत बचाव होता है।
  • अपना खुद का दिमाग लगाकर और भी कई तरह के बिजनेस कर सकते हैं जिससे आपके आमदनी और बढ़ जाती है।
  • स्मार्ट वर्क करने से ज्यादा से ज्यादा लोगों को आप रोजगार भी दे सकते हैं जो स्मार्ट वर्क करने की सबसे बड़ी बात है। 
  • स्मार्ट वर्क करने से देश का विकास भी बहुत तेजी से बढ़ने लगता है।

निष्कर्ष: स्मार्ट वर्क करने से संबंधित सुझाव


तो दोस्तों कोई काम छोटा या बड़ा नहीं होता है बस करने के तरीके अलग होते हैं और उसे ही स्मार्ट वर्क कहा जाता है। अगर आप अपनी थोड़ी सी सोच बदल कर किसी काम को अच्छे तरीके से करते और निभाते हैं तो हम पूरे दावे के साथ कह सकते हैं कि स्मार्ट वर्क आप भी सीख जाएंगे और कर पाएंगे।

Smart Skills सीखने के लिएयहां क्लिक करें
Investment संबंधित जानकारी के लिएयहाँ देखें

हमें आशा है कि आपके प्रश्न स्मार्ट वर्क कैसे करें (Smart work kaise karen) का उत्तर आपको यहां से अच्छी तरीके से मिल पाया होगा और आप यह समझ पाए होंगे कि स्मार्ट वर्क और हार्ड वर्क में क्या अंतर होता है। अगर आपका कोई सुझाव हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर बता सकते हैं और अगर आपको हमारा इंफॉर्मेशन पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों के बीच अवश्य शेयर करें।

Share it now:

2 thoughts on “Smart work kaise karen :) स्मार्ट वर्क कैसे सीखें और करें”

Leave a Comment